Tags

, , ,

बेवफ़ा

तमन्नायें, आगोशगम में सुलाये हैं ||

करके एतबार, मंजर बर्बादी का लाये हैं |

रोशन रहे हरदम, ये दिल याद से तेरी |

इसलिए हम बैठे, दिल अपना जलाये हैं ||

photo

उम्मेद देवल

Advertisements