Tags

, , , , , ,

%e0%a4%a8%e0%a5%80%e0%a4%b0

विरह  सुलगती  आस  ले,  आई  सरवर  तीर |
आग अधिक तन-मन लगी, छू कर शीतल नीर ||

photo

उम्मेद देवल

Advertisements