Tags

, , , , ,

रैना बीते शशि निरख, दिन गुजरे पथ देख |

विधना तूँ कैसी रची, इन हाथों की रेख ||

रेख

photo

उम्मेद देवल

Advertisements