Tags

, , , , , , ,

beautiful-girl-veil-wide|

समझे ना कोई कह देते हैं, बैठे हों चाहे हज़ारों में

लब रहते खामोश मगर, हो जाती बात इशारों में ||

कहने को कहाँ अल्फाज़ों की, दरकार हमेशा होती है,

दिल की दिल सुन लेता है, जो होती बात विचारों में ||

ये आँखें जुबां दिल की होती, हैं सारी बात बता देती,

होते हैं दरमियाँ दोनों के, क्या कहना है इज़हारों में ||

होठों पे कई चुप के ताले, पर सोचों पे कहाँ पाबंदी है |

दिल जाने ना और कोई, क्या है इकरारो, इन्कारों में ||

नाराजी, ख़ुशी, उलझन, बेचैनी, आँखें सब कह देती है |

रहता आँखें चारों ही में, जो साज़ बजे दिल तारों में ||

उम्मेद देवल

उम्मेद देवलh

Advertisements