Tags

, , , , , ,

 

      ????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????              

मैंने सपनो को पंख दिये हैं,तुम भी इनको दे डालो |

ये पंछी हैं तरु फुनगी के, उड़ने में बाधा मत डालो ||

ये शिशु सलोने होते हैं,नाजुक भोले,जिद्दवाले |

इन बिन सूना उर आँगन, हैं आशाओं के रखवाले |

जीवन लकुटी,अवलम्ब निशा में,सानुराग इन्हें पालो |

ये पंछी हैं तरु फुनगी के, उड़ने में बाधा मत डालो ||

अंतस में तम घटा घिरे,ना दुविधा में राह दिखाई दे |

अपने विमुख,जगत बेगाना,पर ये साथ चलें परछाईं से |

कुबेर निधि नर जीवन की,सजगता से इन्हें सम्हालो |

ये पंछी हैं तरु फुनगी के, उड़ने में बाधा मत डालो ||

कतरा-कतरा जीवन रिसता,साँसों संग आयु घटती |

इनको जितना खर्च करो,उससे ज्यादा संख्या बढती |

भावी के बीज,भाव सौदागर,पहचानों, मत कल पर टालो |

ये पंछी हैं तरु फुनगी के, उड़ने में बाधा मत डालो ||

उम्मेद देवल

उम्मेद देवल

Advertisements